ashwani-kumar

नागालैंड के पूर्व राज्यपाल एवं सीबीआई के पूर्व निदेशक और हिमाचल प्रदेश के पुलिस महानिदेशक रहे अश्वनी कुमार ने बुधवार को खुदकुशी कर ली. उन्होंने शिमला में स्थित अपने घर में फंदे पर लटक कर खुदकुशी की उनकी उम्र 70 वर्ष थी. शिमला स्थित उनके निजी आवास में अश्वनी कुमार का शव लटका हुआ पाया गया.

पूर्व आईपीएस अधिकारी ने यह कदम क्यों उठाया इसकी जानकारी अभी सामने नहीं आई है शिमला पुलिस घटनास्थल पर जुटी हुई है और मामले की जांच कर रही है पुलिस को घटनास्थल से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है. जिसमें लिखा गया है कि जिंदगी से तंग आकर अगली यात्रा पर निकल रहा हूं सूत्रों के मुताबिक अश्वनी कुमार कुछ समय से डिप्रेशन में चल रहे थे.

अश्विनी कुमार मणिपुर और नागालैंड राज्य के राज्यपाल भी रहे थे और इससे पहले अगस्त 2006 से जुलाई 2008 तक वे पुलिस महा निदेशक थे. बाद में वह सीबीआई के निदेशक भी बने और इस पद पर 2 साल से अधिक समय तक रहे अश्विनी कुमार का जन्म सिरमौर के जिला मुख्यालय नाहन में हुआ था वह आईपीएस अधिकारी थे.

इस मामले में शिमला के पुलिस अधीक्षक मोहित चावला का कहना है कि अभी अश्वनी कुमार की आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है पुलिस को मौके पर एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ पुलिस अभी इस मामले की गंभीरता से छानबीन कर रही है और पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही इस मामले में कुछ कहा जा सकता है.

0 Comments

No Comment.