राहत इंदौरी

जाने माने शायर और गीतकार राहत इंदौरी का निधन हो गया है. लेकिन उनकी शायरियों में  इस्लामिक कट्टरता बहुत बार देखने को मिलती थी. कभी ओवैसी के मंच ऊपर के चढ़कर जहरीले शेर सुनाते थे. कभी वाजपेई जी के घुटनों पर घटिया जोक्स, कभी रामचरितमानस का मजाक, कभी गोधरा कांड में जला कर मारे गए कारसेवकों के बारे में झूठ और अभी हाल ही में जनवरी महीने में CAA ,NRC के विरोध में वह  हैदराबाद में  आयोजित मुशायरे में शिरकत करने पहुंचे थे. राहत इंदौरी ने खुले तौर पर केंद्र सरकार के नागरिकता संशोधन अधिनियम का विरोध किया था.

अटल बिहारी वाजपेई जब प्रधानमंत्री थे तो राहत इंदौरी ने एक समारोह में अटल जी को दो कौड़ी का आदमी बोलकर शायरी की शुरुआत की थी. और अटल जी की शादी ना करने  पर घटिया चुटकुला को सुनाया था.

1 Comments
Gaurav Singh Dhoni August 12, 2020
| |