uttarakhand-jawan-martyred-in-ladakh

किच्छा के गोरीकलां गांव के रहने वाले भारतीय सेना के जवान 24 वर्षीय करण उर्फ देव बहादुर सीमा पर अपनी ड्यूटी के दौरान शहीद हो गए। उसके शहीद होने की जानकारी मिलते ही क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गयी। विधायक राजेश शुक्ला सहित क्षेत्र के गणमान्य नागरिकों ने शहीद के घर पहुँच परिजनों से मुलाकात की। शहीद का शव देर रात पहुचने की संभावना है।देव 2016 में भारतीय सेना में भर्ती हुए थे। उस दौरान मात्र 20 साल के थे। शहीद जवान का बड़ा भाई किशन बहादुर भी सेना में है।

uttarakhand jawan

बताया जा रहा है कि लेह लद्दाख सीमा पर तैनात देव के घायल होने की खबर शनिवार शाम उनके पिता शेर बहादुर को मिली। बेटे के घायल होने की खबर से परिजन उभरे ही थे, कि सुबह-सुबह उनके शहीद होने खबर उनको मिली। इधर कस्बे के जवान की शहादच की खबर से क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ पड़ी है। वही जवान बेटे के अचानक चले जाने से परिजनों का भी बुरा हाल है।

0 Comments

No Comment.